Nursery Admission should be made by 29th December (1)

Nursery Admission के लिए 29 दिसंबर तक हो जानी चाहिए मेरिट लिस्ट, शिक्षा निदेशालय ने दिया निर्देश

1731 प्राइवेट स्कूलों के बच्चों की लिस्ट 29 दिसंबर को अपलोड होगी। 5 जनवरी को स्कूल अपने 100 पॉइंट क्राइटेरिया के तहत मार्क्स देंगे। ड्रॉ/लॉटरी के बाद पहली मेरिट लिस्ट 12 जनवरी को जारी होगी। फ्री सीटें ईडब्ल्यूएसएन के लिए आरक्षित होती हैं।

 

Nursery Admission: दिल्ली के 1731 प्राइवेट स्कूलों में नर्सरी के फॉर्म भरे जा चुके हैं और अब पैरंट्स को सीट मिलने का इंतजार है। 29 दिसंबर को सभी स्कूल सभी बच्चों की लिस्ट अपनी अपनी वेबसाइट पर अपलोड करेंगे। इसके बाद 5 जनवरी को स्कूल अपने 100 पॉइंट क्राइटेरिया के तहत सभी बच्चों को मार्क्स देंगे और इसकी लिस्ट सभी स्कूल की वेबसाइट पर अपलोड की जाएगी। इन पॉइंट के आधार पर पहली लिस्ट 12 जनवरी को जारी होगी। शिक्षा निदेशालय ने सभी स्कूलों को साफ किया है कि वो नर्सरी के लिए अप्लाई करने वाले सभी बच्चों के नाम की लिस्ट तय तारीख को अपनी वेबसाइट पर अपलोड करें वरना उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

नर्सरी के लिए कई ऐसे स्कूल हैं जहां तय सीट से 10-20 गुना एप्लिकेशन स्कूलों को मिली है। ऐसे स्कूलों में एक ही से पॉइंट वाले कई बच्चे होंगे और इस वजह से स्कूलों को ड्रॉ/लॉटरी निकालनी होगी। शिक्षा निदेशालय ने साफ किया है कि ड्रॉ की तारीख और समय की जानकारी पैरंट्स को दी जाए और उनकी मौजूदगी में ही ड्रॉ हो और इसकी वीडियोग्राफी भी की जाए।

पहली मेरिट लिस्ट 12 जनवरी को जारी होगी। इस पर सवाल या उलझन होने पर पैरेंट्स 13 से 22 जनवरी तक स्कूल से बातचीत कर सकते हैं। दूसरी लिस्ट 29 जनवरी को निकाली जाएगी, जिसके आधार पर 31 जनवरी से 6 फरवरी तक उलझनों पर पैरंट्स स्कूलों से बात कर सकेंगे। अगर फिर भी सीटें खाली रहती हैं, तो 21 फरवरी को फिर लिस्ट जारी होगी। 8 मार्च एडमिशन का आखिरी दिन होगा।

दिल्ली के प्राइवेट स्कूलों में 75% सीटों (ओपन सीटों) पर अलग-अलग एडमिशन क्राइटेरिया मसलन स्कूल से घर की दूरी, अल्मनाई, सिबलिंग, गर्ल चाइल्ड के आधार पर दाखिले होते हैं। इन ओपन सीटों की फीस स्कूल के फीस स्ट्रक्चर पर होती है। वहीं, बाकी 25% सीटें फ्री सीटें होती हैं, जो कि इकनॉमिकली वीकर सेक्शन (ईडब्ल्यूएस)/ डिसएडवांटेज ग्रुप (डीजी) और स्पेशल बच्चों (चाइल्ड विद स्पेशल नीड्स – सीडब्ल्यूएसएन) कैटेगरी के लिए आरक्षित होती हैं।


Posted

in

by